ये है वो व्यक्ति जिसके कारण श्रीदेवी का शव भारत लाया जा सका, आखिर कौन है ये?

The mortal remains of veteran Indian actress Sridevi arrived in India almost 3 days after her death in Dubai and thousands of people came to pay respects to their favourite star at Celebration Sports Club.

श्रीदेवी के जीवन में सब कुछ भला चंगा चल रहा था वो बिलकुल स्वस्थ थी लेकिन तभी अचानक से ही चारो तरफ एक खबर सी फ़ैल गयी कि अचानक से श्रीदेवी का निधन हो गया और इसके बाद कशमकश शुरू हुई कि जो हुआ सो हुआ दुःख तो है लेकिन अब जल्द से जल्द उनके पार्थिव शरीर को हिन्दुस्तान लाना होगा क्योंकि दुबई में तो उनका अंतिम संस्कार नही किया जा सकता है। अब ऐसे में दुबई की क़ानूनी प्रक्रिया बिलकुल भी आसान नही थी। वहां के क़ानून काफी पेचीदा है।

However, very few know about the person from Kerala who played an important part in bringing the actress’ mortal remains to India.

We are talking about Ashraf “Sherry” Thamarassery (44) who handled and signed the official paperwork necessary for the procedure. As per the news agency, 4700 bodies had been repatriated to 38 countries by Ashraf till date.

ऐसे में काफी सारी कागजी कार्यवाही और रिपोर्ट्स वगेरह इन सबमे अगर किसी का नामा सबसे पहले सामने आ रहा है तो वो नाम है अशरफ का, जिनकी मदद के बिना शायद श्रीदेवी का शायद इतनी जल्दी भारत तक ला पाना मुमकिन ही नही हो पाता लेकिन वो एक असल मददगार बनकर के सबके सामने आये।

On Tuesday, Ashraf came with 5 more bodies along with the body of Sridevi. Death does not differentiate between a celebrity and a common man and all are equal, as a news agency is told by him. In his words,

“Whether you’re poor or rich, it doesn’t matter.”

अशरफ दुबई से लगभग चालीस पचास किलोमीटर दूर एक छोटे से फ्लैट में रहा करते है और वहाँ पर वो एक मेकेनिक का काम करते है और साथ ही साथ जब किसी भी भारतीय का शव दुबई में फंस जाता है तो वो उसकी कागजी कार्यवाही पूरी करवाके उसे भारत भिजवाने में मदद करते है। अशरफ इसे अपनी ड्यूटी समझते है और जब श्रीदेवी का मामला सामने आया तो तब भी उन्होंने ऐसा ही किया और उनकी मदद की बदौलत ही दो दिनो के भीतर सारी कानूनी प्रक्रिया पूरी हो गयी हो समय पर भारत लाकर उनका अंतिम संस्कार हो सका।

The procedure is similar for everyone and if someone dies in his/her room, the body is taken to hospital first and then to the police mortuary.

As the formalities were taking time in Dubai, the Indian media got into frenzy. In fact, the Indian media was brutally slammed by celebrities and common public for their insensitive coverage. But when all this was happening in India, Ashraf was handling all the paperwork as Indian businessman Anil Ambani’s private jet was already there to bring Sridevi’s mortal remains to Mumbai.

Ashraf told the news agency that he does it to earn the blessings and also because many people don’t have an idea of the repatriation procedures.

Whatever the reality is, we have to admit that it’s hard to believe that Sridevi is no more.

श्रीदेवी के अंतिम संस्कार में बड़े बड़े स्टार्स से लेकर कई नेता मिनिस्टर भी शामिल हुए और तो और हजारो लोगो का हुजूम भी उमड़ा। सब के सब श्रीदेवी को दिल से चाहने वाले थे जिनके दिलो में उनके लिए प्यार भी है और इज्जत भी, जो हासिल करना बहुत बड़ी बात है।

 

 

 

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *